RAJESH _ REPORTER

अब कलम से न लिखा जाएगा इस दौर का हाल अब तो हाथों में कोई तेज कटारी रखिये

170 Posts

347 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 2623 postid : 581466

मनमोहन / मोदी

  • SocialTwist Tell-a-Friend

आजाद भारत के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब देश के प्रधान मंत्री को किसी राज्य के मुख्य मंत्री ने खुली चुनौती देते हुए स्वतंत्रता दिवस पर देश को दिए गए संबोधन के मात्र एक घंटे बाद ही जबाब देते हुए पुरे देश का ध्यान आकर्षित किया हो हलाकि कुछ लोग इसे गलत सिद्ध करने में लगे हुए है जबकि जनता का मिजाज इसी से भापा जा सकता है की जितने लोगो ने टी वी पर प्रधान मंत्री का भासन नहीं सुना उससे कई गुना अधिक लोगो ने नरेन्द्र मोदी का भासन सुना . प्रधान मंत्री के भासन में जहा लाचारी दिखी वही मोदी जी का भाषण उत्साह से लबरेज था और कुछ कर गुजरने की चाहत दिखी . चाहे भ्रस्ताचार का मुद्दा हो या फिर पडोसी मुल्को द्वारा किये जा रहे हमलो पर यही नहीं नरेन्द्र मोदी ने महंगाई , आतंकवाद के साथ समवेसी विकाश की अवधारणा को मजबूत करने वाला उत्साह जनक उद्बोधन किया लेकिन समाचार चेनल पर चलने वाली परिचर्चाओ के साथ साथ विपक्षी कांग्रेस के नेताओ ने मोदी को कूप मंडूक की उपाधि दे दी लेकिन प्रशिध समाज सेवी किरण वेदी की माने तो मनमोहन सिंह का भासन राज्य सरकार के अधिकारी की तरह था जो की अपने से बड़े अधिकारिओ के समक्ष लिखा लिखाया रट्टा मार जाता है और अन्दर में एक भय से ग्रषित रहता है की कही कोई गलती ना हो जाये ऐसे समय जब देश तामाम कठिनयियो से गुजर रहा हो तब प्रधान मंत्री का लाल किले से इस प्रकार का संबोधन देश के आम नागरिको के गले नहीं उतरा है ?

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

3 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Jaishree Verma के द्वारा
August 17, 2013

राजनीति और राजनीतिज्ञों की बातें आज कल एक दूसरे पर कटाक्ष और आक्षेप लगाने के अलावा कुछ भी नहीं हैं ,इन लोगों को देश से जादा 2014 के चुनाव की चिंता है jagojagobharat जी !

    Krystalyn के द्वारा
    October 17, 2016

    At last, sonomee comes up with the “right” answer!


topic of the week



latest from jagran