RAJESH _ REPORTER

अब कलम से न लिखा जाएगा इस दौर का हाल अब तो हाथों में कोई तेज कटारी रखिये

170 Posts

347 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 2623 postid : 952277

केंद्र राज्य की उठापटक ?

  • SocialTwist Tell-a-Friend

केंद्र और राज्य सरकारों की उठापटक का खामियाजा आज आम जनता को उठाना पड़ रहा है . भाजपा की सरकार है जिस राज्य में है वहा केंद्रीय योजनाओ के सञ्चालन में राज्य सरकार दिलचस्पी दिखाती है , लेकिन जहा दूसरे दलों की सरकार है वहा केंद्रीय योजनाये जमीन पर लागू ना हो ऐसा प्रयास राज्य सरकारों द्वारा किया जाना कतई उचित नहीं है उत्तर प्रदेश बिहार बंगाल सहित कई राज्यों में आज केंद्रीय योजनाये धूल फाकती नजर आ रही है और आम जनता को लाभ से वंचित रखने का प्रयास किया जा रहा है . बिहार में राष्ट्रीय स्वक्षता अभियान मृत प्राय है .जगह जगह गन्दगी का अंबार , खुले में शौच आम बात हो चुकी है जबकि अरबो रूपये की राशि का आवंटन किया गया है वही मनरेगा जैसी योजनाये भी दम तोड़ती नजर आ रही है . बिहार को २०१४-२०१५ वित्तीय वर्ष में १५४८ करोड़ रूपये दिए गए लेकिन जमीन पर कार्य कही दिखाई नहीं देता सारा रुपया बैंक में धूल फांक रहा है आखिर क्यों ? बिहार सरकार हो या उत्तर प्रदेश की सरकार या फिर बंगाल सरकार राष्ट्रीय सुरक्षा के दृष्टिकोण से भी गंभीर नहीं है , वोटबैंक की खातिर खुलेआम राष्ट्रीय सुरक्षा की अनदेखी की जा रही है ? सीमावर्ती जिलो के लिए चलाई जा रही योजनाओ पर भी ध्यान नहीं दिया जा रहा है जिसकी वजह से लोगो में केंद्र सरकार के खिलाफ गुस्सा देखने को मिल रहा है जबकि सच्चाई कुछ और ही बयान कर रही है . राज्य सरकाओ को दल से ऊपर उठ कर काम करने की आवश्यकता के साथ साथ केंद्रीय योजनाओ को जमीन पर लागु करने की जरुरत है ताकि आम जनता को इसका लाभ मिले ना की दलगत राजनीती में पड़ कर जनता को गुमराह करने की /

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Buckie के द्वारा
October 17, 2016

The hoentsy of your posting shines through


topic of the week



latest from jagran